जिला सैनिक कल्याण अधिकारियों की कार्यशाला सम्पन्न

जिला सैनिक कल्याण अधिकारियों की कार्यशाला सम्पन्न

मध्यप्रदेश में भूतपूर्व सैनिकों के पुनर्वास और कल्याण के लिए व्यापक प्रयास किये जा रहे हैं। केन्द्रीय सैनिक बोर्ड की नई दिल्ली में पिछले दिनों आयोजित 27वीं बैठक में गृह एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री श्री नागेन्द्र सिंह ने प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण के अनेक सुझाव रक्षामंत्री को प्रस्तुत किये हैं। यह जानकारी संचालक सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर एस. दासगुप्ता (से.नि.) आज प्रदेश में जिला सैनिक कल्याण अधिकारियों की कार्यशाला में दी। कार्यशाला में कल्याणकारी योजनाओं पर चर्चा की गई।

कार्यशाला में बताया गया कि प्रदेश में सैनिकों की भर्ती के निर्धारित कोटे में वृध्दि करने, प्रदेश में ई.सी.एच.एस. पॉलीटेक्निक्स की वृध्दि करने, इ.सी.एच.एस. अस्पताल के लिये स्थानीय अस्पतालों को अधिकृत किया जाना, भूतपूर्व सैनिकों की यात्रा के लिये फार्म डी जारी करने, प्रदेश के 19 जिलों में ही एन.सी.सी. यूनिटें हैं अत: सभी जिलों में एन.सी.सी. की तथा जिला सैनिक कल्याण अधिकारियों को शासकीय वाहन उपलब्ध कराए जाने के सुझाव केन्द्रीय सैनिक बोर्ड को प्रस्तुत किये गये हैं।

प्रदेश में झंडा दिवस की राशि में बढ़ोत्तरी के प्रयासों के अलावा मोबाईल केन्टीन, ई.सी.एच.एस. अस्पतालों को अधिकृत किया जाना, जिला सैनिक कल्याण कार्यालयों का आधुनिकीकरण किया जाना इत्यादि पर भी कार्यशाला में चर्चा हुई। साथ में विभागीय परामर्शदात्री समिति एवं मध्यप्रदेश भूतपूर्व सैनिक कल्याण समिति की बैठक भी आयोजित की गई। बैठक में समस्त जिला सैनिक कल्याण अधिकारियों के अलावा कर्नल सी.पी. ग्रोवर (से.नि.) सहायक संचालक भी उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदाता की थर्मल स्क्रीनिंग होगी, कर सकेंगे मतदान