पोस्ट

2007 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मानव तस्करी की रोकथाम के लिए राष्ट्रीय कार्य योजना

मानव तस्करी की रोकथाम के लिए राष्ट्रीय कार्य योजनामानव तस्करी संबंधी दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सम्मेलन कल सेसरकार ने मानव तस्करी की रोकथाम के लिए कई कदम उठाए हैं । इनमें मानव तस्करी अधिनियम में संशोधन का प्रस्ताव भी शामिल है ताकि तस्करों और अन्य अपराध करने वालों को पकड़ा जा सके । संशोधन करते समय सरकार ने उन प्रावधानों को वापस लेने का भी प्रस्ताव किया है जो तस्करी के शिकार लोगों को पुन: पीड़ित करते हैं । यह बात महिला और बाल विकास मंत्री श्रीमती रेणुका चौधरी ने मानव तस्करी विषय पर कल शुरू होने वाले दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सम्मेलन की पूर्व संध्या पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कही । इस सम्मेलन का आयोजन महिला और बाल विकास मंत्रालय, गृह मंत्रालय और नशीले पदार्थ तथा अपराध संबंधी संयुक्त राष्ट्र कार्यालय के सहयोग से कर रहा है ।महिलाओं और बच्चों की तस्करी पर चिंता व्यक्त करते हुए श्रीमती चौधरी ने कहा कि उनका मंत्रालय तस्करी की रोकथाम और बचाव, पुनर्वास, पीड़ितों को परिवार के साथ फिर से मिलाने तथा विदेशों में भेजी गई महिलाओं और बच्चों की स्वदेश वापसी के लिए एक व्यापक योजना शुरू कर रहा …

भारत सरकार की टकसालों में सेवाएं जनोपयोगी सेवाएं घोषित

भारत सरकार की टकसालों में सेवाएं जनोपयोगी सेवाएं घोषितकोलकाता, नोएडा (उत्तर प्रदेश), मुम्बई, हैदराबाद, चेर्लापल्ली (रंगारेड्डी)स्थित भारतीय टकसालों में सेवाओं को औद्योगिक विवाद अधिनियम, 1947 के अंर्तगत तत्काल से अगले छह महीनों के लिए जनोपयोगी सेवा घोषित कर दिया गया है। आज यहां जारी एक अधिसूचना में श्रम मंत्रालय ने कहा है कि सार्वजनिक हित में यह कदम उठाया गया है। इससे पहले केन्द्र सरकार ने टकसालों में सेवाओं को 28 फरवरी, 2007 से छह महीनों के लिए जनोपयोगी सेवाएं घोषित किया था।

श्री अर्जुन सिंह कुलपतियों के राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्धाटन करेंगे

श्री अर्जुन सिंह कुलपतियों के राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्धाटन करेंगेविश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) 10-11 अक्तूबर, 2007 को यहां केन्द्रीय, राज्य, समकक्ष तथा निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करने जा रहा है। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री अर्जुन सिंह सम्मेलन का उद्धाटन करेंगे। देश के विश्वविद्यालयों के 400 से ज्यादा कुलपति इस दो-दिवसीय सम्मेलन में भाग लेंगे।सम्मेलन के समापन सत्र को केन्द्रीय विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी मंत्री श्री कपिल सिब्बल सम्बोधित करेंगे।आधुनिक विश्वविद्यालय प्रणाली के शानदार 150 वर्ष पूरे होने के अवसर पर यूजीसी द्वारा एक प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जा रहा है। प्रदर्शनी में 18वीं शताब्दी के प्रारंभ से लेकर अभी तक उच्च शिक्षा की विकास यात्रा का प्रदर्शन किया जाएगा।मानव संसाधन विकास मंत्री श्री अर्जुन सिंह इस प्रदर्शनी का भी उद्धाटन करेंगे। यूजीसी द्वारा मुम्बई, कोलकाता, हैदराबाद और नई दिल्ली में आयोजित क्षेत्रीय सम्मेलनों की परिणति के रूप में इस राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। क्षेत्रीय सम्मेलनों में 218 कुल…

भारत और वियतनाम ने अपराधिक मामलों के बारे में द्विपक्षीय कानूनी सहायता समझौते पर हसताक्षर किए

भारत और वियतनाम ने अपराधिक मामलों के बारे में द्विपक्षीय कानूनी सहायता समझौते पर हसताक्षर किएगृहमंत्री श्री शिवराज पाटिल ने आज हनोई में वियतनाम के राष्ट्रपति श्री न्गूयेन मिन्ह ट्रियेट और वहां के प्रधानमंत्री श्री नूयेन तान डुंग से मुलाकात की । उन्होंने शहर में पुलिस अकादमी का भी निरीक्षण किया ।गृहमंत्री ने कल वियतनाम के सार्वजनिक सुरक्षा मंत्री, श्री ली होंग अन्ह के साथ आधिकारिक चर्चा की । दोनों मंत्रियों ने आपराधिक मुद्दों के बारे में द्विपक्षीय कानूनी सहायता के एक समझौते पर भी हस्ताक्षर किए । गृह मंत्रालय और वियतनाम के सार्वजनिक सुरक्षा मंत्रालय के बीच सहयोग के बारे में समझौते के मसौदे पर भी आधिकारिक स्तर पर चर्चा हुई । अगले वर्ष की शुरूआत में वियतनाम के सार्वजनिक सुरक्षा मंत्री की भारत यात्रा के दौरान इस समझौता ज्ञापन पर विधिवत हस्ताक्षर किए जाएंगे ।गृह मंत्री ने आज हनोई में श्रीमती इंदिरा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया । लेनिन के बाद श्रीमती इंदिरा गांधी एकमात्र ऐसी नेता हैं जिनके नाम पर हनोई में एक सार्वजनिक पार्क का नामकरण किया गया है । प्रतिमा के अनावरण समारोह म…

भारत अब केवल गांवों में ही नहीं बसा है, वह तेजी से शहरों और कस्बों की ओर अग्रसर हो रहा है-प्रधानमंत्री

भारत अब केवल गांवों में ही नहीं बसा है, वह तेजी से शहरों और कस्बों की ओर अग्रसर हो रहा है-प्रधानमंत्रीप्रधानमंत्री डॉ0 मनमोहन सिंह ने कहा कि हमारी नीतियां अब और ज्यादा बेहतर हो चली हैं और हमने शहरीकरण को एक अवसर के रूप में लेना शुरू कर दिया है। आने वाले दशक के बारे में सभी पूर्वानुमान यह संकेत देते हैं कि शहरीकरण की प्रक्रिया में अब और तेजी आएगी। यदि हम परिवर्तन की इस प्रक्रिया को कुशलता से व्यवस्थित कर सके तो शहरी भारत अब भौतिक और आर्थिक पुनर्निर्माण हमारी पहुंच के अन्दर होगा। आज यहां जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीनीकरण मिशन पर राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्धाटन करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अब केवल गांवों में ही नहीं बसा है, बल्कि वह तेजी से अपने छोटे-छोटे कस्बों और शहरों की ओरअग्रसर हो रहा है।आर्थिक विकास की प्रक्रिया ने हमारे शहरों में नाटकीय बदलाव ला दिया है। शहर हमारी अर्थव्यवस्था के प्रमुख विकास वाहक बन चुके हैं और ये अप्रत्याशित अवसर देश वासियों के लिए प्रस्तुत कर रहे हैं।प्रधानमंत्री ने आशा जताई कि राष्ट्रीय शहरी नवीनीकरण मिशन से शहरीकरण की प्रक्रिया को पर्यावर…

सार्वजनिक-निजी भागीदारी के जरिये शहरी विकास में निवेश के लिए निजी क्षेत्र को प्रोत्साहित करें: प्रधानमंत्री

सार्वजनिक-निजी भागीदारी के जरिये शहरी विकास में निवेश के लिए निजी क्षेत्र को प्रोत्साहित करें: प्रधानमंत्रीप्रधानमंत्री डा0 मनमोहन सिंह ने आज यहां जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन के बारे में राष्ट्रीय सम्मेलन को सम्बोधित किया। इस अवसर पर दिए गए प्रधानमंत्री के सम्बोधन का पाठ इस प्रकार है:-
''जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी नवीकरण मिशन के बारे में स्थानीय निकायों और राज्य सरकारों के प्रतिनिधियों के इस राष्ट्रीय सम्मेलन के मौके पर उपस्थित होना मेरे लिए खुशी की बात है। इस सम्मेलन का प्रयोजन इस दिशा में 22 महीने पहले शुरू किए गए कार्यों की समीक्षा करना है। मैं शहरी विकास मंत्री श्री जयपाल रेड्डीजी और आवास एवं शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्री सुश्री शैलजाजी को इस बात के लिए बधाई देता हॅू कि उन्होंने देश में शहरों का कायापलट करने के लिए शुरू किए गए इस बड़े उपाय का नेतृत्व किया है। सबसे पहले मैं कहना चाहता हॅू कि देश के शहरों की स्थिति में सुधार के व्यवस्थित प्रयासों की आवश्यकता लम्बे समय से महसूस की जा रही थी। अब यह नहीं कहा जा सकता कि भारत सिर्फ गांवों में ही बसता है …

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए स्मार्ट कार्ड अगले मार्च तक

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए स्मार्ट कार्ड अगले मार्च तकराज्यों के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों को इलेक्ट्रानिक नेटवर्क के जरिएजल्दी ही जोड़ दिया जाएगा-श्री टी आर बालूकेन्द्रीय नौवहन, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री टी आर बालू ने कहा है कि ड्राइविंग लाइसेंसों के लिए स्मार्ट कार्ड और वाहनों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र जारी करने तथा राज्यों के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (आरटीओ) को इलेक्ट्रानिक माध्यम के जरिए जोड़ देने का लक्ष्य अगले साल मार्च तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। श्री बालू आज यहां सड़क सुरक्षा , सड़क डिजाइन, निर्माण तथा संचालन के संबंध में अंतर्राष्ट्रीय रोड फेडरेशन के दूसरे क्षेत्रीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे ।मंत्री महोदय ने बताया कि राष्ट्रीय सड़क परिवहन नीति तैयार करने के लिए गठित समिति ने हाल ही में अपनी रिपोर्ट पेश कर दी है जिसमें सड़क परिवहन और सड़क क्षेत्र में सुधार के निर्देश दिए गए हैं । अब यह रिपोर्ट केन्द्र सरकार के विचाराधीन है ।श्री बालू ने बताया कि राज्यों से कहा गया है कि वे यातयात संबंधी कानूनों को सख्ती से लागू करें और क्षमता से अधिक माल लदान रोकन…

हंगरी के शिक्षा एवं संस्कृति मंत्री अर्जुन सिंह से मिले

हंगरी के शिक्षा एवं संस्कृति मंत्री अर्जुन सिंह से मिलेसरकारी दौरे पर आये हंगरी के शिक्षा एवं संस्कृति मंत्री डॉ0 ईस्तवान ने आज यहां मानव संसाधन विकास मंत्री श्री अर्जुन सिंह से मुलाकात की ।उल्लेखनीय है कि वर्ष 2003 में भारत और हंगरी के बीच शैक्षिक आदान-प्रदान के एक कार्यक्रम पर हस्ताक्षर हुए थे । दोनों देशों की सरकारें इस कार्यक्रम के तहत एक दूसरे के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्तियां दे रही है और साथ ही दोनों देशों के बीच विद्वानों और शिक्षाविदों का आदान-प्रदान भी बराबर जारी है । इस अवसर पर दोनों मंत्रियों ने आदान-प्रदान कार्यक्रम के कार्यान्वयन की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया।

पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों के सम्मेलन में प्रधामनंत्री डा0 मनमोहन सिंह का सम्बोधन

पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों के सम्मेलन में प्रधामनंत्री डा0 मनमोहन सिंह का सम्बोधनप्रधानमंत्री डा0 मनमोहन सिंह ने कल यहां पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों के सम्मेलन-2007 को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने पुलिस कार्मिकों को उनकी विशिष्ट सेवा के लिए वर्ष 2006 के राष्ट्रपति पुलिस पदक भी प्रदान किए।डा0 मनमोहन सिंह द्वारा इस अवसर पर दिए गए के सम्बोधन का पाठ इस प्रकार है : ''सबसे पहले मैं विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक प्राप्त करने वाले कर्मियोंको हार्दिक बधाई देता हूं। यह पुरस्कार कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने में आपके प्रतिबध्द योगदान का परिचायक है। मैं इस अवसर पर आतंकवाद और अस्थिरता फैलाने वाली ताकतों के खिलाफ हिम्मत और बहादुरी से संधर्ष करने में महत्तवपूर्ण योगदान करने वाले पुलिस बन्धुवों की सराहना अवश्य करना चाहूंगा। मैं यह बात भली-भांति समझता हूं कि आपने भारी दबावों और अपर्याप्त संसाधनों के बीच सभी उपलब्धियां हासिल की हैं।पुलिसकर्मी भी एक किसान, श्रमिक और शिक्षक की भांति सभ्य समाज का अनिवार्य स्तम्भ हैं। मैं समझता हूं कि किसी राष्ट्र …