ग्रामीण क्षेत्र में सौर कुकर एवं उन्नत चूल्हे प्रदाय करने की नई योजना शीघ्र

ग्रामीण क्षेत्र में सौर कुकर एवं उन्नत चूल्हे प्रदाय करने की नई योजना शीघ्र

वैकल्पिक ईंधन स्त्रोत बढ़ाना आवश्यक-मुख्यमंत्री श्री चौहान, लहारपुर में दस हजार पौधे रोपे गए

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों की ऊर्जा जरूरतों एवं ईंधन की बचत के लिए उन्नत चूल्हे प्रदाय करने की नई योजना शुरू की जाएगी। सौर ऊर्जा आधारित उपकरणों के उपयोग को बढ़ावा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहां कटारा हिल्स स्थित हाउसिंग बोर्ड कालोनी के पास लहारपुर क्षेत्र में वन विभाग द्वारा स्थानीय निवासियों के सहयोग से आयोजित वन महोत्सव को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निरंतर हुई वन कटाई एवं बढ़ती आबादी के कारण ईंधन के साधन कम होते जा रहे हैं। वैकल्पिक ऊर्जा का अधिकतम उपयोग आवश्यक हो गया है। विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में सोलर कुकर जैसे उपकरणों का प्रयोग बढ़ना चाहिए। श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में जलाऊ लकड़ी के लिए पेड़ों के काटे जाने की प्रवृत्ति पर रोक आवश्यक है। राज्य सरकार इस दिशा में आवश्यक कदम उठाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को पौधे लगाने के साथ ही उनकी रक्षा का दायित्व भी निभाना चाहिए। यह कार्य दिखावे से भी दूर होना चाहिए। वृक्ष हमें प्राणवायु देते हैं। इसके बिना मानव जीवन का अस्तित्व नहीं। श्री चौहान ने कहा कि जनसहयोग से हरियाली महोत्सव के तहत प्रदेश में इस वर्ष दस करोड़ पौधे लगाए जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वन मंत्री एवं वन विभाग को इस वर्ष हरियाली महोत्सव के तहत रोपण के लिए दो-तीन वर्ष के पौधों का चयन करने के लिए बधाई दी। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी व्यक्तियों को पेड़ पौधों और वन्य प्राणियों के संरक्षण के लिए समर्पित भावना से कार्य करने का संकल्प दिलाया।

वन मंत्री श्री हिम्मत कोठारी ने कहा कि मध्यप्रदेश में हरियाली महोत्सव ने जनआंदोलन का रूप ले लिया है। अब तक ढाई करोड़ से अधिक पौधे लगाए जा चुके हैं। अनेक ग्रामों में वन रक्षा एवं श्रमदान के अनोखे उदाहरण देखने को मिले हैं। वन मंत्री ने कहा कि वन ग्रामों में बुनियादी सुविधाओं पर इस वर्ष 150 करोड़ रूपये खर्च किए जा रहे हैं। प्रमुख सचिव वन श्रीमती रंजना चौधरी ने बताया कि हरियाली महोत्सव के तहत विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए जा रहे हैं। अधिकांश पौधे औषधीय महत्व के हैं। प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री वी.आर. खरे ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। आभार प्रदर्शन प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री पी.बी. गंगोपाध्याय ने किया।

कटारा हिल्स के लहारपुर में 52 हेक्टेयर क्षेत्र में कुल 10 हजार पौधे लगाए जाना है। हरियाली महोत्सव के तहत आज 900 पौधे रोपे गए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बरगद और वन मंत्री श्री कोठारी ने आंवले का पौधा रोपा। इस अवसर पर वन विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री राजेंद्र हर्षवाल, भोपाल के संभाग आयुक्त श्री बी.आर.नायडु, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदाता की थर्मल स्क्रीनिंग होगी, कर सकेंगे मतदान