प्रधानमंत्री द्वारा यमुना नदी के संरक्षण तथा विकास कार्य की समीक्षा

प्रधानमंत्री द्वारा यमुना नदी के संरक्षण तथा विकास कार्य की समीक्षा

       प्रधानमंत्री डॉ0 मनमोहन सिंह ने कल यहां यमुना नदी के संरक्षण और विकास से संबिंधत मुद्दों का जायजा लेने के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में यमुना नदी के विकास के बारे में एक उच्च अधिकार प्राप्त समिति के गठन का फैसला लिया गया। दिल्ली के उपराज्यपाल तथा मुख्यमंत्री इस समिति के सह-अध्यक्ष होंगे। समिति में सभी हितधारकों को शामिल किया जाएगा। समिति यमुना नदी के संरक्षण और विकास के बारे में अध्ययन करेगी।

       यमुना नदी का प्रदूषण चिन्ता का मुख्य विषय है। बैठक में यह स्वीकार किया गया कि दिल्ली जल बोर्ड द्वारा सीवरेज तथा जल निकासी के लिए बनाई गई योजना के कार्यान्वयन से यमुना नदी के पानी की गुणवत्ता में उल्लेखनीय सुधार आएगा। लेकिन नदी  दहाने  का विकास एक ऐसी कवायद है, जिसके बारे में काफी सावधानी बरतने की जरूरत है और यह कार्य विभिन्न पहलुओं के उचित अध्ययन के बाद ही शुरू किया जाना चाहिए।

       बैठक में गृह मंत्री श्री शिवराज पाटिल, शहरी विकास मंत्री श्री एस. जयपाल रेड्डी, दिल्ली के उपराज्यपाल श्री तेजेन्द्र खन्ना और दिल्ली की मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित ने भाग लिया। प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, श्री टी.के.ए. नायर, कैबिनेट सचिव श्री के.एम. चन्द्रशेखर तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में मौजूद थे।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

6 हजार 284 आंगनवाड़ी केन्द्रों से 4 लाख 55 हजार 238 बच्चे, गर्भवती महिलायें और धात्री माताओं को पोषण आहार से लाभान्वित

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 26 सितम्बर को स्थाई एवं निरंतर लोक अदालत का आयोजन

मतदाता जागरूकता के लिए रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन