शिकायत निवारण प्राधिकरण द्वारा 11 हजार प्रकरण निराकृत

शिकायत निवारण प्राधिकरण द्वारा 11 हजार प्रकरण निराकृत

राज्य सरकार द्वारा नर्मदा घाटी परियोजनाओं से प्रभावित परिवारों की पुनर्वास संबंधी शिकायतों के न्यायपूर्ण निराकरण के लिए गठित शिकायत निवारण प्राधिकरण द्वारा अब तक 11 हजार 88 प्रकरणों का निराकरण कर दिया गया है। प्राधिकरण को अब तक 17626 आवेदन प्राप्त हुये है। उल्लेखनीय है कि पूर्व अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री रविन्द्र शर्मा की अध्यक्षता में गठित शिकायत निवारण प्राधिकरण द्वारा नर्मदा संकुल की इंदिरा सागर और आेंकारेश्वर परियोजनाओं सहित अन्य परियोजनाओं के विस्थापितों की शिकायतों की सुनवाई की जाती है। प्राधिकरण में अध्यक्ष के अतिरिक्त एक प्रशासनिक और एक न्यायिक सदस्य है। स्वतंत्र रूप से कार्यरत इस प्राधिकरण के निर्णय शासन के लिए बंधनकारी है। ज्ञात हो कि राज्य में निर्माणाधीन नर्मदा घाटी की परियोजनाओं में प्रभावित परिवारों की सर्वाधिक संख्या इंदिरा सागर परियोजना में है। परियोजना प्रभावित 40 हजार से अधिक परिवारों का पुनर्वास किया गया है इसी प्रकार ओंकारेश्वर परियोजना प्रभावित 1500 परिवारों का पुनर्वास हो चुका है। विस्थापित परिवारों को यह अधिकार है कि पुनर्वास से असंतुष्ट होने पर वे अपनी शिकायते शिकायत निवारण प्राधिकरण के समक्ष प्रस्तुत कर सकते है। प्राधिकरण परियोजना क्षेत्र में कैम्प कोर्ट लगा कर शिकायत प्रकरणों की सुनवाई करता है।

शिकायत निवारण प्राधिकरण द्वारा इंदिरा सागर परियोजना से संबंधित 9569 शिकायतों मान परियोजना से संबंधित 1291 शिकायतों तथा ओंकारेश्वर परियोजना से संबंधित 228 शिकायतों का निराकरण किया गया। ज्ञात हो कि इंदिरा सागर परियोजना के अंतर्गत सर्वाधिक 40 हजार परिवारों के पुनर्वास का कार्य हुआ है। ओंकारेश्वर परियोजना के अंतर्गत लगभग 1500 परिवारों का पुनर्वास किया गया है।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

6 हजार 284 आंगनवाड़ी केन्द्रों से 4 लाख 55 हजार 238 बच्चे, गर्भवती महिलायें और धात्री माताओं को पोषण आहार से लाभान्वित

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 26 सितम्बर को स्थाई एवं निरंतर लोक अदालत का आयोजन

मतदाता जागरूकता के लिए रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन