प्रदेश के प्रथम निजी विश्वविद्यालय की स्थापना का मार्ग हुआ प्रशस्त : एम.ओ.यू. पर हुए हस्ताक्षर

प्रदेश के प्रथम निजी विश्वविद्यालय की स्थापना का मार्ग हुआ प्रशस्त : एम.ओ.यू. पर हुए हस्ताक्षर

देवास में इसी शिक्षा सत्र से पोलीटेक्नीक कालेज प्रारंभ होगा--श्री पंवार

उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री तुकोजीराव पंवार एवं प्रदेश के स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री एवं देवास जिले के प्रभारी मंत्री श्री पारस जैन की उपस्थिति में आज देवास में निजी विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए मध्यप्रदेश शासन तथा इंस्टीटयूट ऑफ चार्टड फायनेंशियल एनालिस्ट ऑफ इण्डिया (आई.सी.एफ.ए.आई.) हैदराबाद के मध्य करारनामे पर हस्ताक्षर किये गये। मध्यप्रदेश शासन की ओर से उच्च शिक्षा विभाग के सचिव एवं आयुक्त श्री आशीष उपाध्याय एवं (आई.सी.एफ.ए.आई.) हैदराबाद के अध्यक्ष श्री सुभाष सरनीकर द्वारा हस्ताक्षर किये गये। इस अवसर पर के.पी. कालेज देवास में 3.75 करोड़ रूपये की लागत से पृथक साईन्स ब्लाक हेतु बनने वाले भवन का भूमिपूजन भी किया गया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्री तुकोजीराव पंवार ने कहा कि यह प्रदेश एवं देवास के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धी है कि यहां पर निजी विश्वविद्यालय अधिनियम लागू होने के बाद प्रथम निजी विश्वविद्यालय देवास में स्थापित होने जा रहा है। इसी के साथ ही के0पी0 कालेज के लिए पृथक से साईन्स ब्लाक हेतु भवन बनने जा रहा है। यह अवसर देवास के इतिहास में स्वर्णिम अवसर है जब देवास शहर को शिक्षा के क्षेत्र में एक साथ दो सौगाते मिलने जा रही है।

राज्यमंत्री श्री पंवार ने कहा कि देवास औद्योगिक नगरी के नाम से पूरे देश में जाना जाता है इसलिए यहां पर उच्च एवं तकनीकी शिक्षा संस्थानों की स्थापना होना बहुत ही आवश्यक है। उन्होंने बताया कि जिले के विद्यार्थियों को देवास में ही उचित शिक्षा प्राप्त हो सके इसके लिए शासन द्वारा आई.टी.आई. के विस्तार एवं विकास हेतु 2 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत की जा चुकी है तथा इसी शिक्षा सत्र से देवास में पोलीटेक्नीक कालेज प्रारंभ किया जायेगा। इसके लिए देवास विकास प्राधिकरण द्वारा भवन उपलब्ध करा दिया गया है। इसी तरह शीघ्र ही मेडीकल कालेज एवं इंजीनियरिंग कालेज खोलने के लिए प्रायवेट सेक्टर से चर्चा कर दोनों संस्थान खोलने के प्रयास किये जा रहे है।

प्रभारी मंत्री श्री पारस जैन ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए देवास में प्रदेश का प्रथम निजी विश्वविद्यालय स्थापित होने पर नागरिकों को बधाई प्रेषित की। उन्होंने कहा कि इससे देवास सहित प्रदेश के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अन्य शहरों की ओर प्रस्थान न करना पडे। आपने कहा कि शासन की योजनाओं के उचित क्रियान्वयन हेतु जनप्रतिनिधियों का सहयोग मिलना आवश्यक है ताकि जनता को जन कल्याणकारी योजनाओं का उचित लाभ मिल सके।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगर निगम महापौर श्री शरद पाचुनकर ने शहर के नागरिकों की ओर से श्री पंवार को विज्ञान भवन एवं निजी विश्वविद्यालय की स्थापना हेतु किये गये प्रयासों के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में के0पी0 कालेज जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष श्री दिलीपसिंह जाधव ने समिति की गतिविधियों की जानकारी देते हुए सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण दीप प्रज्जवलित कर किया गया।

इस अवसर पर नगर निगम सभापति श्री सुभाष शर्मा, श्री मदनलाल भास्कर, आई.सी.एफ.ए.आई. के प्रतिनिधि, कालेज के प्राध्यापकगण,छात्र-छात्राओं सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। अंत में आभार प्रदर्शन श्री मनीष पारीख ने व्यक्त किया।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदाता की थर्मल स्क्रीनिंग होगी, कर सकेंगे मतदान