कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण
27 फरवरी 08/पर्यावरण और वन मंत्रालय राज्य मंत्री श्री एस.रघुपति ने आज लोसभा में पूछे गये एक सवाल के जवाब में सदन को बताया कि राज्य सरकार से प्राप्त सूचना के अनुसार आन्ध्र प्रदेश के कवल वन्यजीव अभयारण्य में 399 हेक्टेयर क्षेत्र में जुलाई 2007 से अक्टूबर 2007 के दौरान पेड़ों को काटे जाने और अतिक्रमण के प्रयास किए। अवैध शिकारियों द्वारा कुल 13246 पेड़ काटे गये। यद्यपि, इस अवधि के दौरान अवैध शिकार की घटनाओं की सूचना प्राप्त नहीं हुई है।
श्री रघुपति ने सदन को जानकारी दी कि राज्य सरकार ने पेड़ों की कटाई और अतिक्रमण को रोकने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम भी उठाए हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त