ओपन परीक्षा में नकल भी ओपन

ओपन परीक्षा में नकल भी ओपन
पोलिटेक्निक कॉलेज में नियम कानूनों की धज्जियां उड़ी, छात्रों से बसूले जा रहे है पैसे
संजय गुप्‍ता(मांडिल) मुरैना ब्‍यूरो चीफ मुरैना, 2 जून। पिछले दिनों से चल रही ओपन हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री परीक्षाओं में नकल माफियाओं ने नियम कानूनों की अत्येंष्टि कर दी है। स्थानीय पोलिटेक्निकल कॉलेज परीक्षा केन्द्र पर न सिर्फ जबरन पैसे लेकर नजराने की बात कही जा रही है, बल्कि षिक्षा विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इस समस्या को नजरंदाज कर मूकदर्षक बने हुए है। ऐसे में गरीब एवं निर्धन छात्रों के भविश्य पर सवालिया निशान अंकित हो गया है।
सोमवार को इस परीक्षा केन्द्र पर नकल माफियाओं ने छात्रों से 300-300 रुपये बसूल किए। शिकायती पत्र में छात्रों का कहना है कि जिन बच्चों ने यहां पैसे नहीं दिए उनके साथ अभद्र व्यवहार किया गया तथा पैसे देने वाले छात्रों को यहां सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई। इनका यह भी कहना है कि परीक्षा के दौरान षिक्षा विभाग के अधिकारी भी केन्द्र के हालातों को देखकर औपचारिक निर्देश ही दे पाए। इस केन्द्र पर डयूटी देने वाले और छात्रों से बसूली करने वाले एक षिक्षक का तो यहां तक कहना था सारे काम सुविधाशुल्क की दम पर ही चल रहे है। लिहाजा कोई भी अधिकारी इन परीक्षाओं में औपचारिकताओं के अलावा खास हस्तक्षेप नही कर रहा है। यह बात अलग है कि पोलिटेक्निकल कॉलेज परीक्षा केन्द्र पर हो रही अनियमितताओं के बारे में कलेक्टर आकाश त्रिपाठी को जानकारी नही है अन्यथा नियम कानूनों का यहा अंतिम संस्कार नही किया जाता। छात्रों ने कलेक्टर श्री त्रिपाठी से आग्रह किया है कि वह आकस्मिक निरीक्षण कर यहां खुलेआम चल रही नकल पर रोक लगायें साथ ही छात्रों से बसूले जा रहे पैसे वापस दिलाए जाए। इस समस्या को लेकर बात करने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी से कई बार संपर्क किया गया लेकिन वे उपलब्ध नहीं हो पाए।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

6 हजार 284 आंगनवाड़ी केन्द्रों से 4 लाख 55 हजार 238 बच्चे, गर्भवती महिलायें और धात्री माताओं को पोषण आहार से लाभान्वित

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 26 सितम्बर को स्थाई एवं निरंतर लोक अदालत का आयोजन