स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा : कुष्ठ उन्मूलन हेतु चलेगा जन जागरूकता अभियान

स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा : कुष्ठ उन्मूलन हेतु चलेगा जन जागरूकता अभियान
मुरैना 11 सितम्बर 08/ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. जनार्दन अतुलकर ने समस्त कार्यक्रम अधिकारियों एवं खंड चिकित्सा अधिकारियों की उपस्थिति में जिले में संचालित समस्त स्वास्थ्य योजनाओं की समीक्षा की । बैठक में कुष्ठ उन्मूलन के व्यापक प्रचार- प्रसार हेतु जन जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया ।
डा. अतुलकर ने स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिए कि जननी एक्सप्रेस योजना के अंतर्गत जिले के प्रत्येक विकास खण्ड को रूपये 15000 के मान से आवंटित राशि का उपयोग प्रसूति महिलाओं को लाने-लेजाने में ही किया जावे । जिले के प्रत्येक विकास खण्ड में स्वास्थ्य शिविरों की कार्य योजना बनाकर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया जावे । जिले एवं विकास खंड स्तर की गंदी बस्तियों एवं ग्रामों में स्वास्थ्य विभाग की समस्त योजनाओं के व्यापक प्रचार- प्रसार हेतु दीवार नारे लेखन, होर्डिग लगवाते हुए विकास खंडवार आई ई.सी. की कार्य योजना तत्काल बनावें । प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं उप स्वास्थ्य केन्द्र का निर्माण एवं रख रखाव तथा मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था निर्धारित समयावधि में पूर्ण की जावे । सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नूरावाद के अंतर्गत नवीन उन्नयन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र रिठौराकलां के निर्माण हेतु संबंधित खंड चिकित्सा अधिकारी एवं जिला कार्यक्रम प्रबंधक आर.सी.एच.मौके पर पहुंचकर प्रस्ताव तैयार करें । जिन ग्रामों में स्वच्छता समिति का गठन अभी तक नहीं किया गया है नियमानुसार यथा शीघ्र उक्त समिति का गठन किया जावे ।
शालेय स्वास्थ्य परीक्षण के अंतर्गत स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा 1 से 12 तक के विद्यार्थियों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु कार्य योजना तैयार की जाय । टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत टीकाकरण सुदृढ़ीकरण हेतु माह के प्रत्येक मंगलवार एवं शुक्रवार को प्रत्येक उप स्वास्थ्य केन्द्र पर पदस्थ मैदानी अमले द्वारा टीकाकरण अनिवार्य रूप से किया जावे । इस हेतु खंड चिकित्सा अधिकारी सभी अधिनस्थ मैदानी अमले के कार्यों का समय-समय पर निरीक्षण करें एवं व्हेक्सिन परिवहन हेतु उचित व्यवस्था बनायी जावे । इस कार्य में किसी कर्मचारी एवं अधिकारी की लापरवाही एवं उदासीनता स्वीकार नहीं की जावेगी । कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु जन जागरूकता अभियान चलाकर रैली निकाली जावे व दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित की जावे । क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जन संख्या के 5 प्रतिशत संभावित रोगियों के खकार की जॉच की जाना सुनिश्चित करें । मलेरिया उन्मूलन के अंतर्गत विकास खण्ड के समस्त ग्रामों में बुखार वाले मरीजों की तुरंत रक्त पट्टी बनायी जावे । जिन ग्रामों में पानी के स्त्रोत है जहां पानी इकट्ठा होता है उनकी सूची बनाकर जिला कार्यालय में भेजी जाय ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

6 हजार 284 आंगनवाड़ी केन्द्रों से 4 लाख 55 हजार 238 बच्चे, गर्भवती महिलायें और धात्री माताओं को पोषण आहार से लाभान्वित

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 26 सितम्बर को स्थाई एवं निरंतर लोक अदालत का आयोजन

मतदाता जागरूकता के लिए रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन