मध्य प्रदेश में सासन अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट

मध्य प्रदेश में सासन अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट

लोक सभा

       विद्युत मंत्री, श्री सुशील कुमार शिंदे ने आज लोक सभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी कि अल्ट्रा मेगा विद्युत परियोजनाओं से संबंधित सभी मामलों पर त्वरित निर्णय लेने के लिए गठित मंत्रियों के विशेषाधिकार प्राप्त समूह ने मध्य प्रदेश में 4000 मेगावाट की सासन अल्ट्रा मेगा पिटहैड विद्युत परियोजना अवार्ड करने संबंधी मामले की जांच की है । समग्र जनहित के मद्देनजर तथा बोली दस्तावेजों के विभिन्न अनुच्छेदों की जांच के बाद मंत्रियों के विशेषाधिकार प्राप्त समूह ने ग्लोबलेक लेनको समूह को जारी किए गए एलओआई को प्रापणकर्ता रद्द किए जाने का निर्णय लिया क्योंकि यह समूह आरएफक्यू चरण में ही योग्य नहीं था और आरएफक्यू के लिए इसका प्रत्युत्तर शुरू से ही गलत था । यह भी निर्णय लिया गया कि प्रापणकर्ता एक करोड़ रुपये की कटौती करने के बाद उक्त समूह का बोली बॉण्ड वापस कर दे और बाकी बोलीदाताओं के साथ वार्तालाप करे और उनसे उपयुक्त टैरिफ हेतु उसकी अंतिम बोलियां प्राप्त करे ।

       तदनुसार, सासन पावर लिमिटेड (एसपीएल) ने बाकी वैध बोलीदाताओं से आशेधित प्रस्ताव प्राप्त किए, जिनमें से मै. रिलायंस पावर लि. का 1.19616 प्रति कि.वा.घं. के समानीकृत टैरिफ का प्रस्ताव न्यूनतम था । एसपीएल ने रिलायंस पावर लि. को पहली अगस्त 2007 को इच्छा पत्र जारी किया और उसके उपरांत उन्हें स्पेशल पर्पज व्हीकल, सासन पावर लि., जो सासन यूएमपीपी के लिए स्थापित किया गया है, हस्तांतरित करने के लिए आवश्यक प्रलेखन पूरा कर लिया है ।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण