गाय का पूरा जीवन मनुष्यों के काम आता है

गाय का पूरा जीवन मनुष्यों के काम आता है

पशुपालन एवं गौ संवर्धन मंत्री श्री रमाकान्त तिवारी ने आज यहां स्थानीय प्रशासन अकादमी में गौ विज्ञान, जैविक खेती और पंचगव्य पर प्रारंभ हुई तीन दिवसीय संगोष्ठी के अवसर पर एक प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस संगोष्ठी का आयोजन मध्यप्रदेश गौ-पालन एवं पशु संवर्धन बोर्ड द्वारा किया गया है।

प्रदर्शनी में देश के प्रमुख संस्थानों और गौ शाला विशेषज्ञों द्वारा अपने उत्पादों और नवीनतम कार्यों का प्रदर्शन किया गया है। संगोष्ठी के विषयों पर संबंधित जानकारी के पोस्टर भी लगाये गये हैं। इस प्रदर्शनी में श्री तिलकेश्वर गौसेवा सदन उज्जैन, कामधेनु गौशाला भोपाल, गौसेवा भारती भोपाल, माँ गायत्री गौशाला भोपाल, दीनदयाल शोध संस्थान चित्रकूट और श्री गौतम गौसंवर्धन शोध संस्थान उज्जैन द्वारा गौशाला में बनने वाले पंचगव्य एवं जैविक उत्पादों के स्टाल लगाये गये हैं।

पूर्व में पशु पालन मंत्री श्री रमाकान्त तिवारी ने प्रदर्शनी का प्रारंपरिक रूप से दीप जलाकर शुभारंभ किया। उन्होंने प्रत्येक स्टाल पर जाकर प्रदर्शित उत्पादों का अवलोकन किया और प्रदर्शित जानकारियों के विषय में पूछताछ भी की।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शनी पश्चिमी सभ्यता की अंधी दौड़ में बेतहाशा और नतीजों से वेपरवाह लोगों की मानसिकता बदलने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। उन्होंने कहा कि एक गाय का संपूर्ण जीवन और उसका प्रत्येक अंग मानव जीवन, उसके स्वास्थ्य और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिये कितनी उपयोगी है और कितने गहरे जुड़ी हुई है, इस तथ्य का सबजनों तक पहुंचाने की दिशा में यह संगोष्ठी और यह प्रदर्शनी अत्यंत महत्वपूर्ण कदम है।

इस अवसर पर मध्यप्रदेश गौ पालन एवं गौ संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष श्री मेघराज जैन, बोर्ड की प्रबंध संचालक एवं आयुक्त पशु पालन श्रीमती शिखा दुबे, बोर्ड के अन्य सदस्य, विभिन्न गौ शालाओं तथा संबंधित संस्थानों के प्रतिनिधिगण तथा बड़ी संख्या में जनसामान्य उपस्थित थे।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण