ग्रामीण विकास स्कीमों के सफल क्रियान्वयन के लिए कड़ी निगरानी जरूरी - डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह

ग्रामीण विकास स्कीमों के सफल क्रियान्वयन के लिए कड़ी निगरानी जरूरी - डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह

केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह ने कर्नाटक और उड़ीसा के संसद सदस्यों के एक दल के साथ ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा शुरू की गयी विविध ग्रामीण विकास स्कीमों के क्रियान्वयन के बारे में कल परस्पर बातचीत की । मंत्री महोदय का विविध राज्यों के संसद सदस्यों के साथ यह इस प्रकार का चौथा वार्ता सत्र था। मंत्री महोदय ने स्कीमों के सफल क्रियान्वयन के लिए जिला स्तर पर स्कीमों की निगरानी पर जोर दिया। मंत्री महोदय ने चुने गए प्रतिनिधियों को ग्रामीण, जिला एवं राज्यस्तरीय सतर्कता व निगरानी समिति की बैठकों के नियमित रूप से और प्रत्येक तीन महीने में आयोजन को सुनिश्चित करने के लिए कहा। इससे ग्रामीण विकास कार्यक्रमों के सफल क्रियान्वयन के लिए जनता की भागीदारी, सूक्ष्म निगरानी, पारदर्शिता और जिम्मेदारी बढेग़ी।

                इस अवसर पर केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री, श्री चंद्र शेखर साहू, उड़ीसा के पूर्व मुख्यमंत्री, श्री गिरधर गोमांग तथा अन्य सांसद मौजूद थे। ऐसे वार्ता सत्र 29 अगस्त (तमिलनाडु व केरल), 30 अगस्त, (गुजरात, गोवा, केन्द्रशासित प्रदेश और उत्तराखंड) और 3 सितंबर (बिहार और झारखंड), 5 सितंबर (उत्तरप्रदेश) औरा 6 सितम्बर (महाराष्ट्र व आंध्र प्रदेश) को निर्धारित हैं।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण