स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 174 बंदी विशेष परिहार से मुक्त

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 174 बंदी विशेष परिहार से मुक्त

3086 बंदियों को सजा की कमी का लाभ

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राज्य शासन द्वारा जेलों में परिरुध्द बंदियों को दिये गये विशेष परिहार से 174 बंदी मुक्त हुए हैं। इसमें से आजीवन कारावास से दण्डित 90 बंदी तथा छोटी सजा से दण्डित 84 पुरुष बंदियों को लाभ मिला है। साथ ही संबंधित सर्किल जेल एवं उनके अधीनस्थ जिलों से शासन परिहार से 3086 बंदी भी लाभान्वित हुए हैं। इनमें 35 महिला बंदी भी शामिल हैं। इन बंदियों को केवल सजा की अवधि में कमी का लाभ मिला है।

शासन के आदेश के परिपालन में 15 अगस्त, 2007 स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में प्रदेश की जेलों में शासन के विशेष परिहार से जिन बंदियों को सजा की अवधि में कमी का लाभ दिया जाकर लाभान्वित किया गया है उनमें केन्द्रीय जेल जबलपुर के 341 पुरुष बंदी तथा 9 महिलाएं लाभान्वित हुई हैं। केन्द्रीय जेल ग्वालियर में 395 पुरुष बंदी तथा चार महिलाएं, केन्द्रीय जेल सागर में 311 पुरुष तथा दो महिलाएं, केन्द्रीय जेल सतना में 183 पुरुष, केन्द्रीय जेल रीवा में 211 पुरुष छह महिलाएं, केन्द्रीय जेल उज्जैन में 355 पुरुष तथा दो महिलाएं, केन्द्रीय जेल भोपाल में 466 पुरुष तथा पांच महिलाएं तथा केन्द्रीय जेल इंदौर में 476 पुरुष बंदियों तथा चार महिला बंदियों को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर शासन द्वारा दिये गये विशेष परिहार से सजा की अवधि में कमी का लाभ मिला है।

इसी प्रकार शासन द्वारा दिये गये विशेष परिहार से जिला (सर्किल जेल) प्रथम श्रेणी नरसिंहपुर में 95 पुरुष बंदी लाभान्वित हुए हैं, सर्किल (जिला जेल दतिया) में 157 पुरुष बंदी तथा तीन महिला बंदी तथा सर्किल (जिला जेल) सिवनी में 61 पुरुष बंदियों को स्वतंत्रता दिवस पर शासन द्वारा दिये गये विशेष परिहार से सजा की अवधि में कमी का मिला जाना शामिल है।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण