पोस्ट

अगस्त 26, 2007 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

चम्‍बल में फैली अजीब बीमारीयां, फिर ठप्‍प हुयी बिजली सप्‍लाई

शुक्रवार को फिर ठप्‍प रही बिजली सप्‍लाई मुरैना/भिण्‍ड 1 सितम्‍बर शुक्रवार 31 अगस्‍त को चम्‍बल अंचल में सुबह 6 से गुल हुयी बिजली सप्‍लाई पूरे दिन ठप्‍प रहने के बाद देररात 1 सितम्‍बर को रात 1 बज कर 30 मिनिट पर बहाल हुयी । सुबह से ही बिजली गुल रहने के कारण जहॉं लोग पीने नहाने के पानी को तरस गये वहीं अनेक घरों में तो खाना तक नहीं बना । पानी बिजली के अभाव में दोपहर और रात का खाना नहीं बनने से जहॉं हजारों परिवार भूखे प्‍यासे सोये वहीं नन्‍हे मुन्‍ने बच्‍चे भी बिलख बिलख कर कोहराम मचाते मचाते सो गये । अंचल में बरसात न होने के कारण जहॉं इन दिनों भारी सूखा पड़ा हुआ है और विकट गर्मी व मच्‍छरों के कारण डेंगू और चिकनगुनिया भी अंचल में तेजी से फैल गया है । लगभग हर घर में इन दिनों लोग अजीब बुखार और बदन दर्द से त्रस्‍त हैं इसके अलावा पेट में ऐंठन दर्द के साथ दस्‍त और वायरल की चपेट में आ गये हैं । मुरैना में तो कुछ प्रकरणों में अजीबो गरीब बीमारीयां लोगों में नजर आ रहीं हैं, विख्‍यात ज्‍योतिषी व तंत्रिक पं श्‍याम लाल सारस्‍वत को पहले पीठ में दर्द हुआ वहीं अब उनकी रीढ़ की हडडी में अजीब सी सिकुड़न आ गयी …

अमन के लिये जंग

हम अमन चाहते हैं जुल्‍म के खिलाफ, फैसला गर जंग से होगा तो जंग ही सही ।- रामप्रसाद विस्मिल