मुरैना डाकघर पायलट प्रोजेक्ट में षामिल

मुरैना डाकघर पायलट प्रोजेक्ट में षामिल
मिलेगी उपभोक्ताओं को और अधिक सुविधाएं
17 अगस्त को सिंधिया करेंगे षुभारंभ
मुरैना, अगस्त। डाकविभाग के आधुनिकीकरण को देखते हुए केन्द्र सरकार द्वारा पायलट प्रोजेक्ट के तहत देष 52 डाकघरों को षामिल किया गया है। जिसमें मुरैना का डाकघर भी षामिल है। जिसके तहत अब डाकघर को कम्प्यूटराईज्ड किया जा रहा है। जिससे अब डाकघर में समूचे काउंटर सुविधाजनक हो जायेगें। और उपभोक्ताओं को अपने कामों के लिए लंबी - लंबी लाईने नहीं लगानी होगी। पायलट प्रोजेक्ट का षुभांरभ 17 अगस्त को केन्द्रीय सूचना व संचार राज्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया करेंगे।
केन्द्र सरकार के द्वारा डाकविभाग को आधुनिकीकरण के चलते देष के 52 डाकघरों को पायलट प्रोजेक्ट के तहत चुना गया है। जिसमें मुरैना का डाकघर भी षामिल है। जिससे यहां पर उपभोक्ताओं के लिए सुविधाएं बढ़ायी जाएगी। जिसमें सबसे पहले समूचे डाकघर को कम्प्यूटराईज्ड किया जा रहा है। और साथ ही डाकघर की पुताई करने का काम भी हो रहा है। सुविधाओं के बारे में बताते हुए डाक विभाग के इस्पेक्टर एस के पांडे ने बताया कि अब उपभोक्ताओं को अपने कामों के लिए डाकघर में लंबी - लंबी लाईने नहीं लगानी होगी। इसके लिए यहां सभी काउटंरों को कम्प्यूटराईज्ड किया जा रहा है। और ये सभी काउंटर मल्टीपरपज होगें। यहां पर काउंटरों की संख्या में भी इजाफा किया गया है। और पूछताछ के लिए एक कम्प्यूटर वाली मषीन व एक विंडो लगायी जाएगी। पायलट प्रोजेक्ट का मुख्य उध्देष्य टू लुक एंड फील गुड ''देखो और अच्छा महसूस करों''। इसके तहत यहां उपभोक्ताओं के लिए कई नई सुविधा भी दी जाएगी। डाकघर को आकर्शण पर भी हम ध्यान दे रहे है। और इनके लिए बड़ी गैलरी, कुर्सियों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। इन सभी सुविधाओं का षुभारंभ केन्द्रीय सूचना व संचार राज्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया करेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

मतदाता जागरूकता के लिए रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त