इस्पात मंत्रालय द्वारा सार्वजनिक उपक्रमों के लिए हिंदी पुरस्कारों की स्थापना

इस्पात मंत्रालय द्वारा सार्वजनिक उपक्रमों के लिए हिंदी पुरस्कारों की स्थापना

इस्पात मंत्रालय अपने अधीन सार्वजनिक उपक्रमों के लिए हिंदी में उत्कृष्ट कार्य के लिए तीन पुरस्कारों की स्थापना करेगा । इस्पात राज्यमंत्री डा0 अखिलेश दास ने आज यहां हिंदी दिवस पर अपने मंत्रालय के अधिकारियों और कर्मचारियों को संबोधित करते हुए यह बात कही ।

      उन्होंने कहा कि राष्ट्रभाषा होने के अलावा हिंदी ने देश की संपर्क भाषा के रूप में महत्वपूर्ण योगदान दिया है । हमारी फिल्मों और गीतों के माध्यम से हिंदी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रियता मिली है । डॉ0 दास ने अपने अधिकारियों और कर्मचारियों को हिंदी दिवस पर बधाई देते हुए उनसे हिंदी में और अधिक मौलिक कार्य करने का आग्रह किया । उन्होंने कहा कि हिंदी भाषी लोगों को राष्ट्रीय एकता बढाने के लिए अन्य भारतीय भाषाओं का अध्ययन करना चाहिए ।

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण