स्कूलों में शैचालय निर्माण के लिए 16 लाख 20 हजार रूपये मंजूर

स्कूलों में शैचालय निर्माण के लिए 16 लाख 20 हजार रूपये मंजूर
मुरैना 29 जनवरी 2008 // कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी ने जिले में 36 उ.मा. विद्यालय एवं हाईस्कूल तथा 45 माध्यमिक विद्यालय भवनों में शौचालय निर्माण हेतु 16 लाख 20 हजार रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है। स्वीकृत राशि में से 8 लाख 10हजार रूपये की राशि प्रथम किस्त के रूप में कार्य एजेन्सी संबंधित ग्राम पंचायत के लिए जारी कर दी गई है ।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अभय वर्मा के अनुसार कसमढ़ा, नयापुरा, जग्गा का पुरा, दतहरा, मिरघान, बागचीनी, डिडोखर, गोल्हारी और किशोर गढ़ के उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तथा कसमढ़ा, रछेड़, सिहौनियां कोल्हुआ, कुथियाना, रिठौना, गोठ, धीरबल का पुरा, नूराबाद, जींगनी , खरगपुर भर्राड़, मुरैना गांव, भैंसोरा, खनेता, चचिहा, निटहरा, कुम्हेरी, टिकटोली गुर्जर, खंडोली, बघपुरा, बर्रेड, कुटरावली, राजाकातोर, मांगरोल, बामसोली, जाबरोलऔर रामपहाड़ी के हाईस्कूल भवनों में शौचालय निर्माण हेतु 7 लाख 20 हजार रूपये की राशि स्वीकृत की गई है । स्वीकृत राशि में से 3 लाख 60 हजार रूपये की राशि प्रथमकिस्त के रूप में प्रदाय की गई है ।
इसी प्रकार भदावली, जोटई, विण्डवा, इकहरा,जोरी, हथयार सिंह का पुरा, हेतमपुर, मृगपुरा, मुगावली, मिरघान, नावली, सहरैयन का पुरा, किशनपुर, लालौर कलां, दौरावली, नौ गांव, जयनगर, महाराजपुर, इमलिया, विसंगपुर, बडौना, नरहेला, उम्मेदगढ़ बांसी, अरहेला, बागवान का पुरा, गलेथा, नहरावली, शहदपुर, हडवांसी, पचोखरा, परसोटा, निमास, टिकटोली, रसोंधना हार, ताजपुर, रीझोनी, पचेखा, बेरईगिर्द, हीरापुर, बामसौली, गुलालई, संस्कृत रामपुर, देवपुरमाफी और देवपुर पूंछरी के माध्यमिक विद्यालय भवनों में शैचालय निर्माण के लिए 9 लाखरूपये की प्रशासकीय स्वीकृति दीगईहै । स्वीकृत राशि में से 4 लाख 50 हजार रूपये की राशि प्रथम किस्त के रूप में संबंधित कार्य एजेन्सी कोजारी की गई है। प्रथम किस्त की राशिका उपयोग कर लेनेके बाद उपयंत्री से मूल्यांकन कराकर संबधित मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत के माध्यम से प्रस्ताव प्राप्त होने पर द्वितीय किस्त की राशि प्रदाय की जायेगी ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण