जनसम्पर्क विभाग में सात संभागीय कार्यालय स्थापित

जनसम्पर्क विभाग में सात संभागीय कार्यालय स्थापित

संभागीय कार्यालयों में कार्यालय प्रमुख संयुक्त संचालक होंगे

राज्य शासन द्वारा मंत्रि परिषद की बैठक में लिए गए निर्णय अनुसार जनसंपर्क विभाग में सात जिलों, ग्वालियर, सागर, इंदौर, रीवा, जबलपुर, भोपाल और उज्जैन में संभागीय कार्यालय स्थापित किए गए हैं। इस आशय के आदेश आज जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी कर दिए गए हैं।

इन सातों संभागीय कार्यालयों के अंतर्गत आने वाले जिला जनसंपर्क कार्यालय इस प्रकार होंगे। संभागीय कार्यालय इंदौर के अंतर्गत धार, खरगौन, झाबुआ, खण्डवा, बड़वानी और बुरहानपुर जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय जबलपुर के अंतर्गत कटनी, सिवनी, छिन्दवाड़ा, बालाघाट, नरसिंहपुर, मण्डला और डिण्डोरी जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय ग्वालियर के अंतर्गत गुना, शिवपुरी, दतिया, मुरैना, श्योपुर, भिण्ड और अशोकनगर जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय भोपाल के अंतर्गत बैतूल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, विदिशा, होशंगाबाद और हरदा जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय उज्जैन के अंतर्गत देवास, रतलाम, शाजापुर, मंदसौर और नीमच जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय सागर के अंतर्गत दमोह, टीकमगढ़, छतरपुर और पन्ना जिला कार्यालय होंगे। संभागीय कार्यालय रीवा के अंतर्गत सतना, शहडोल, उमरिया, सीधी और अनूपपुर जिला जनसंपर्क कार्यालय होंगे।

इन संभागीय कार्यालयों में संयुक्त संचालक कार्यालय प्रमुख होंगे। संयुक्त संचालक के अलावा जबलपुर, ग्वालियर एवं इंदौर में दो-दो तथा सागर, रीवा, भोपाल एवं उज्जैन संभागीय कार्यालयों में एक-एक सहायक संचालक के पद होंगे। संभागीय कार्यालयों के कार्यालय प्रमुख अपने नियंत्रण के जिलों के जनसंपर्क कार्यालयों में प्रशासनिक एवं वित्तीय नियंत्रण, प्रचार-प्रसार के कार्यों में समन्वय, पर्यवेक्षण, समीक्षा एवं मूल्यांकन का कार्य करेंगे। संभागीय कार्यालय में द्वि-स्तरीय शासन लागू होने के बाद तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के जितने पद स्वीकृत थे, वे यथावत रहेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण