कुपोषण में कमी

कुपोषण में कमी
संजय गुप्‍ता (मांडिल) मुरैना ब्‍यूरो चीफ
मुरैना 8 अक्टूबर08/ महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रयासों के परिणाम स्वरूप मुरैना जिले में बच्चों के कुपोषण स्तर में अशातीत सुधार हुआ है और कुपोषण स्तर में कमी आई है । 12 वां बाल संजीवनी अभियान के तहत कुपोषण के ग्रेड-4 में दर्ज 191 बच्चों में से 12 सामान्य, 9 ग्रेड-1, 28 ग्रेड-2 और 73 ग्रेड-3 में आ गये है और अब ग्रेड -4 में मात्र 57 बच्चे ही शेष बचे हैं ।
जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्री प्रदीप राय के अनुसार 12 वें बाल संजीवनी अभियान में कुपोषण के ग्रेड-3 में 1132 बच्चे पाये गये थे । इनमें से 27 बच्चे सामान्य श्रेणी में, 294 ग्रेड-1 में और 378 ग्रेड-2 में आ गये हैं । अब ग्रेड -3 में मात्र 498 बच्चे शेष बचे हैं , इनमें से 73 ग्रेड-4 के श्रेणी सुधार उपरान्त ग्रेड-3 में आये हैं ।
अभियान के तहत ग्रेड-2 में पाये गये 33313 बच्चो में से 804 सामान्य श्रेणी में और 4263 ग्रेड-1 में आ गये हैं । ग्रेड-4 और ग्रेड-3 के श्रेणी सुधार उपरांत अब ग्रेड-2 में कुल 28652 बच्चे ही शेष बचे हैं । इसी प्रकार अभियान के दौरान ग्रेड-1 में दर्ज 79457 बच्चों में से 27733 सामान्य श्रेणी में आ गये है और अब ग्रेड-4, ग्रेड-3 और ग्रेड-2 के श्रेणी सुधार उपरांत 73024 बच्चे ही ग्रेड-1 में शेष बचे हैं । कुपोषण के विरूध्द यह अभियान सतत जारी है ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण