मुरैना में बीच शहर में हुई दिन दहाड़े लूट, व्‍यापारी दहशत में शहर में खौफ का सन्‍नाटा

मुरैना में बीच शहर में हुई दिन दहाड़े लूट

सर्राफा बाजार में भारी भीड़ के रहते और पुलिस चौकी के निकट हुई घटना

बिजली गुल रहते हुई एक और वारदात, व्‍यापारी दहशत में शहर में खौफ का सन्‍नाटा

संजय गुप्‍ता (मांडिल) ब्‍यूरो चीफ मुरैना

मुरैना 18 अगस्‍त 2007 । अभी अभी समाचार लिखे जाने से दो घंटे पूर्व मुरैना शहर के सबसे व्‍यवस्‍ततम एवं भीड़ भाड़ वाले सर्राफा बाजार क्षेत्र में आज एक सर्राफा व्‍यवसायी को दिन दहाड़े लूट लिया गया ।

       उल्‍लेखनीय है कि घटना स्‍थल के नजदीक दो-दो पुलिस चौकियां है और दोनों पुलिस चौकियां मात्र सौ-सौ गज की दूरी पर है तथा यह भी कि लुटेरे लूट करने के बाद पुलिस चौकी की ओर ही भागे । सैकड़ो हजारों लोगों के बीच से पैदल भागते हुए अनेक व्‍यापारियों के सामने से माल लूट कर गुजरते हुए मजे से पुलिस चौकी के सामने से भी गुजर गये और लूट का माल लेकर रफूचक्‍कर हो गये और सभी के सभी महज तमाशाई  बनकर केवल तमाशा देखते रह गये ।

       ज्ञातव्‍य है कि सर्राफा बाजार में शहर के ठीक बीचों बीच सर्राफा व्‍यवसायी मंगल चंद पदम चंद ज्‍वैलर्स की सर्राफे की दुकान है जहां दुकान के मालिक श्री पदम चंद बांदिल जो कि काफी वृद्ध एवं लगभग अशक्‍त है के पुत्र श्री दिनेश चन्‍द बांदिल आज सुबह लगभग साढ़े दस बजे अपनी दुकान खोलने के लिये आये और साथ में एक थैला भी घर से लाये थे जिसमें नकदी के अलावा सोना चांदी और अन्‍य जेवरात व अन्‍य आभूषण आदि थे । प्रत्‍यक्षदर्शियों एवं आसपास के लोगों ग्‍वालियर टाइम्‍स को बताया कि लगभग आठ दस लाख रूपये या इससे अधिक का माल उस थैले में होगा । वहीं कुछ लोगों ने एक से तीन लाख रूपये तक का माल होना बताया । दुकान के वृद्ध मालिक व श्री दिनेश चन्‍द बांदिल के पिता श्री पदम चन्‍द बांदिल ग्‍वालियर टाइम्‍स को यह नहीं बता पाये कि उस थैले में क्‍या-क्‍या था व कितने का माल था।  श्री दिनेश चन्‍द बांदिल ने अपनी दुकान के शटर का ताला खोलने के लिये साथ लाये थैले को दुकान के शटर से टिका कर रख दिया और एक ताला खोलकर दूसरा ताला खोलने लगे इतनी ही देर में एक लम्‍बा सा व्‍यक्ति जो साफी लपेटे हुये था अचानक आया और थैला उठाकर एक दम भाग निकला ।

       एक दम घटी इस घटना से दुकान मालिक श्री दिनेश चन्‍द बांदिल एक दम हतप्रभ रह गये और उनको तथा आसपास के दुकानदारों को तुरन्‍त ही कुछ समझ नहीं आया और अवाक अवस्‍था में उसे थैला ले जाकर भागते देखते रह गये ।

       ग्‍वालियर टाइम्‍स की टीम ने मौके पर मौजूद राहगीरों व ग्राहकों तथा आसपास के दुकानदारों से भी बातचीत की जिसमें लोगों ने बताया कि हालांकि थैला ले जाकर भागने वाला लड़का लम्‍बा सा और मुंह पर साफी लपेटे हुए था तथा उसका रंग भी सांवला काला था लेकिन निश्चित रूप से उसके अन्‍य साथी भी रहे होंगे वरना इतनी भीड़ में और दो-दो पुलिस चौकियों के बीच इस प्रकार की वारदात करना हंसी खेल नहीं है ।

       ग्‍वालियर टाइम्‍स से बातचीत करते समय दुकान के वृद्ध मालिक श्री पदम चन्‍द बांदिल लगभग रो पड़े और उनके मुंह से बोल नहीं फूट रहे थे, उनसे बातचीत करते समय आस पास के अनेक व्‍यापारी वहां एकत्रित हो गये और उन्‍होंने घटना का कवरेज कर रहे सभी मीडिया कर्मियों व विशेष रूप से ग्‍वालियर टाइम्‍स से अनुरोध किया कि हम ऐसे हालातों में यहां कैसे व्‍यवसाय कर सकते है जहां हमें निरन्‍तर हफता बसूली के लिये गुण्‍डे और असामाजिक तत्‍व डरा धमकाकर आतंकित करते है वहीं इस प्रकार से दो-दो पुलिस चौकियों के बीच रहते हुए भी हमें इस प्रकार दिन दहाड़े लूट लिया जाता है भय के कारण कई व्‍यापारी तो पुलिस में रिपोर्ट भी नहीं लिखाते क्‍योंकि उसके बाद घटनाओं की आशंका और ज्‍यादा बढ़ जाती है । उन्‍होंने मीडिया से अनुरोध किया कि उनकी बात ऊपर तक पहुंचायी जावे ।

       अब इसे संयोग कहें या बिजली कम्‍पनी का दुर्भाग्‍य कि जब भी वह बिजली काटते है कोई न कोई वारदात कहीं न कहीं हो जाती है अभी कुछ दिन पहिले ही जहां बिजली न होने के कारण बीच भिण्‍ड शहर में सनसनी खेज चोरी की वारदात हुई वहीं आज दिन दहाड़े जब मुरैना शहर के बीचों बीच भी लूट की वारदात के वक्‍त बिजली कंपनी ने शहर की बिजली सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक के लिये घोषित करके काट रखी है ।    

  

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण