कलेक्टर श्री राजीव रंजन मीना ने जिले के लोगों से अपील करते हुए कहा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के आंगनवाड़ी की खुली भूमि में सब्जी उगाई जायेगी केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को बांटे सब्जियों के पैकेट

   Sanjay Gupta Mandil, Buerau MORENA/ केन्द्रीय कृषि, पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा है कि कृषि अधौसंरचना पर केन्द्र सरकार ने एक लाख करोड़ रूपये का प्रावधान किया है। इनमें से 20 हजार करोड़ मछली पालन को बढ़ावा देने, 15 हजार करोड़ पशुपालन, 4 हजार करोड़ हर्वल फसलों, 5 हजार करोड़ मधुमक्खी पालन और 10 हजार करोड़ रूपये छोटे-छोटे प्रोसेसिंग मशीनों के लगाने पर खर्च होंगे। देश में पोषण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत देश की प्रत्येक आंगनवाड़ी की खुली जमीन में वाटिका तैयार कर वहां विभिन्न सब्जियों के बीज बोये जा रहे, ताकि कुपोषित बच्चों, गर्भवती महिलाओं को ताजी सब्जियां उपलब्ध हो सकें।        
    केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर सोमवार को टाउनहॉल में आंगनवाड़ी महिला संगोष्ठी एवं पोषण वाटिका हेतु सब्जी बीज वितरण कार्यक्रम को मुख्य अतिथि बतौर संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर कृषि राज्यमंत्री श्री गिर्राज डण्डोतिया, इफको ट्रस्ट के डायरेक्टर श्री अरूण तोमर, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री योगेशपाल गुप्ता, पूर्व मंत्री श्री मुंशी लाल, पूर्व विधायक श्री रघुराज कंषाना, श्री कमलेश जाटव, श्री सूवेदार सिंह रजौधा, समाजसेवी श्री हमीर सिंह पटेल, श्री केदार सिंह यादव, चंबल संभाग के कमिश्नर श्री आरके मिश्रा, कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया सहित बड़ी संख्या में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं अन्य लोग उपस्थित थे।
    केन्द्रीय कृषि, पंचायती राज और ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने उपस्थित महिलाओं का अभिनंदन करते हुये कहा कि हमारे देश में कुपोषण एक बड़ा कलंक है। जब कभी दुनिया में प्रतिस्पर्धायें होती है, तब भारत आगे रहता है और जब कुपोषण की रेंकिंग होती है तो भारत की रेंकिंग कम हो जाती है। उन्हांेने कहा कि पोषण संबंधी परम्परायें छूट जाने के कारण जो उपलब्धता होना चाहिये, उसका अभाव हो गया। उन्हांेने कहा कि भारत सरकार द्वारा देश में महिला पोषण आहार अभियान चलाया जा रहा है। 17 सितम्बर को हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्मदिन से इफकों के सहयोग से देश भर में आंगनवाडि़यों में सब्जियों के पैकेटों का वितरण किया जा रहा है। इन बीजों को आंगनवाड़ी की खुली भूमि पर बोनी करके सब्जियों की पैदावार की जायेगी। जो कुपोषण के मिटाने में सहयोगी सिद्ध होगी, वहीं गर्भवती महिलाओं को भी ताजी पर्याप्त सब्जी मिल सकेंगी। उन्होंने उन आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, महिलाओं से आग्रह किया कि अगर उनकी आंगनवाड़ी में खुली जगह नहीं है तो वे इन बीजों का उपयोग किसी गरीब व्यक्ति के घर पर पर्याप्त स्थान पर बोनी करके सब्जियों को उगायें। इन बीजों को वे अपने पास नहीं रखें, नहीं तो 10-12 दिन के अंदर यह बीच किसी काम के नहीं रहेंगे। 
    श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि आंगनवाड़ी वाटिका में सब्जियों के पैदावार करके हम पोषण के क्षेत्र में एक नया अध्याय जोड़ेगे। उन्होने कोरोना काल में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा लोंगो की, कि गई सेवाओं पर सभी को धन्यवाद दिया और कहा कि प्रधानमंत्री ने भी अभिनंदन किया है।
    श्री तोमर ने कहा कि हम सभी को मिलजुलकर देश और प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाना है, और गांव में फैली विकृति को खत्म करना है। हमें रोजगार के नये अवसर पैदा करना है। कृषि को समृद्ध बनाना है। इसके लिये हमनें कृषि अधौसंरचना के लिये एक लाख करोड़ रूपये का प्रावधान किया है। इस राशि से हम छोटे-छोटे किसानों का कलस्टर बनाकर एफ.पी.ओ. के माध्यम से लाभान्वित करेंगे। उन्होंने कहा कि इन छोटे-छोटे किसानों के यहां उनकी जरूरत के हिसाब से प्रोसेसिंग मशीनें, उन्हें पशुपालन, मछली पालन से जोड़कर उन्नत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश अधौसंरचना कार्यो के तहत 10 हजार वेयर हाउस बनाने का भी निर्णय लिया। इस अवसर पर श्री तोमर ने कृषि सुधार के लिये आये अध्यादेश से किसानों को होने वाले फायदों को भी गिनाया। 
    कृषि राज्यमंत्री श्री गिर्राज डण्डोतिया ने कहा कि पोषण अभियान 2020 जन जागरण अभियान बनें। हर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से उन गरीब महिलाओं तक यह संदेश पहुंचे तथा जिसमें फल सब्जियों के बीज शासन द्वारा दिये जा रहे है। जिन्हें आंगनवाड़ी केन्द्रों पर खाली स्थान पर बोया जाये। जिन केन्द्रों पर स्थान नहीं है वहां निचले स्तर पर रहने वाली महिलाओं को यह बीज उपलब्ध कराये जायें जिससे फल एवं सब्जी प्राप्त होने पर कुपोषण दूर होगा।
    पूर्व विधायक श्री रघुराज सिंह कंषाना ने कहा कि हमारे देश में कुपोषण एक कलंक है, जब इसकी ग्रेडिंग अन्य देशों में होती है, तब इसकी बजह से भारत की रैकिंग कम हो जाती है। इस रैकिंग को बढ़ाने के लिये फल एवं सब्जियों के बीज दिये जा रहे है। इन्हें उगाकर इनसे प्राप्त होने वाले फल एवं सब्जी से कुपोषण दूर किया जा सकेगा।
    कार्यक्रम में पूर्व विधायक श्री कमलेश जाटव ने कहा कि कुपोषण को मिटाने के लिये सरकार बहुत बड़े कदम उठा रही है कि किसी भी तरह कुपोषण हमारे देश से समाप्त हो। प्रदेश व केन्द्र सरकार लगातार विकास की ओर अग्रसर है। फ्लाईओवर बन जाने से मुरैना जैसे शहर की महानगरों के रूप में देखा जा सकेगा।
    कार्यक्रम के अंत में इफको किसान ट्रस्ट के डायरेक्टर श्री अरूण तोमर ने सभी के प्रति आभार व्यक्ति किया। मौके पर इफको मार्केटिंग डायरेक्टर श्री योगेन्द्र कुमार भी उपस्थित थे उन्होंने भी अपने विचार व्यक्त किये। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण