राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम 28 सितंबर से 07 अक्टूबर तक

Sanjay Gupta Mandil, Bureau MORENA/ कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए म.प्र. शासन द्वारा समुदाय में समुचित स्वास्थ्य एवं पोषण स्तर को बनाए रखने के लिए विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं। इसी तारतम्य में केम्पैन मोड सर्विस के अंतर्गत 01 से 19 वर्षीय समस्त हितग्राही वर्ग का कृमिनाशक किया जाएगा।
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के अंतर्गत प्रदेश में विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों का संचालन संभव न होने की दशा में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम का क्रियान्वयन समुदाय आधारित गृह क्षमण रणनीति के माध्यम से किया जाएगा। अर्थात स्वास्थ्य विभाग एवं महिला एवं बाल विकास के मैदानी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर 01 से 19 वर्षीय समस्त हितग्राहियों का कृमिनाशन किया जाएगा। बच्चों में कृमि संक्रमण से बच्चों का जहाँ एक ओर शारीरिक एवं बौद्धिक विकास बाधित होता है और उनके पोषण स्तर पर दुष्प्रभाव पड़ता है।
    01 से 02 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल 400 मि.ली.ग्राम की आधी गोली चुरा करके पीने के साफ पानी में मिलाकर चम्मच से पिलाई जाएगी। 03 से 03 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल 400 मि.ली.ग्राम की पूरी गोली चुरा करके पीने के साफ पानी में मिलाकर चम्मच से पिलाई जाएगी। 03 से 19 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल 400 मि.ली. ग्राम की पूरी गोली पीने के साफ पानी के साथ चबाकर खाने को दी जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण