औषधीय एवं सुगंधीय पौधों की व्यवसायिक खेती एवं प्रक्रियाकरण पर वेबिनार (ऑन-लाइन प्रशिक्षण)

संजय गुप्‍ता मांडिल, मुरैना/ उद्यमिता विकास केन्द्र म.प्र. (सेडमैप) भोपाल द्वारा आत्म निर्भर मध्यप्रदेश की दिशा में व किसानों की आय दुगना करने की ओर एक कदम, औषधीय एवं सुगंधीय पौधों की व्यवसायिक खेती एवं प्रक्रियाकरण पर आधारित ऑनलाइन वेबिनार 28 सितंबर से 30 सितम्बर 2020 तक तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें विभिन्न बहुमूल्य औषधीय पौधें - अश्वगंधा, सर्पगंधा, शतावर, सफेद मूसली, गिलोय, तुलसी, मोरिंगा, कोंच, पपीता आदि व सुगंधीय पौधें - लेमन ग्रास, पामारोजा, सिट्रोनेला, मेन्था, खस आदि की कृषि तकनीक, प्राथमिक प्रसंस्कण एवं इन पर आधारित उद्योग और इनके बीजों, प्लाटिंग मटेरियल के प्राप्ति स्थलों तथा मार्केटिंग हेतु संभावित बाजार की जानकारी दी जावेगी। इसके अतिरिक्त होम हर्बल गार्डन स्थापना व घरेलू जड़ी बूटियों के गुणों एवं उपचार आदि के संबंध में विस्तिृत रूप से जानकारी प्रदाय की जावेगी।
उच्च शिक्षा प्राप्त ऐसे युवक भी जो अभी तक खेती किसानी के कार्य को केवल कम पढ़े-लिखे लोगों का व्यवसाय मानते थे, औषधीय एवं सुगंधीय पौधों की खेती अपनाकर गौरवान्वित महसूस करने लगे है। वर्तमान समय में औषधीय एवं सुगंधीय पौधों की खेती करने की संभावनाये अधिक है क्योकि भारत की जलवायु में इन पौधों का उत्पादन आसानी से किया जा सकता है।
इस वेबिनार में किसान मोबाइल 8839678782 पर अथवा सेडमैप के जिला कार्यालय में अपना पंजीयन करवा सकते है। पंजीयन कराने की अंतिम तिथि 29 सितंबर 2020 नियत है। इस कार्यक्रम की जानकारी सेडमैप के जिला समन्वयक शिवप्रेम दोहरे द्वारा दी गयी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण