गरीबी में चार फीसदी से अधिक कमी


चिट्ठाजगत अधिकृत कड़ी

गरीबी में चार फीसदी से अधिक कमी

विभिन्न राज्यों में गरीबी में कमी लाने के अनेक कार्यक्रमों के कार्यान्वयन से गरीबी उपशमन पर अच्छा प्रभाव पड़ा है। गरीब लोगों की प्रतिशतता 1999-2000 में 26.1 प्रतिशत थी जो 2004-05 में घटकर 21.8 प्रतिशत रह गई। वर्ष 1999-2000 और 2004-05 के गरीबी के अनुमान से यह तथ्य सामने आए हैं। यह अनुमान परिवार उपभोक्ता खर्च सर्वेक्षण (राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण 61वां राउंड) पर आधारित हैं। मिश्रित रिकॉल अवधि पर आधारित गरीबी अनुमान के तुलनात्मक आंकड़े इस प्रकार हैं -

1999-2000 2004-05

1. ग्रामीण 27.1 प्रतिशत 21.8 प्रतिशत

2. शहरी 23.6 प्रतिशत 21.7 प्रतिशत

3. कुल 26.1 प्रतिशत 21.8 प्रतिशत

इस अवधि के दौरान जनसंख्या की तुलना में रोजगार तेजी से बढा। राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण संगठन के पंचवर्षीय राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण के अनुसार, 1999-2000 और 2004ऱ्05 के बीच रोजगार की वृध्दि दर सालाना 2.95 प्रतिशत थी जबकि इसी अवधि के दौरान जनसंख्या वृध्दि दर सालाना 1.71 प्रतिशत थी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की आज अंतिम तारीख आज 17 उम्मीदावरों ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये

14 स्थान कंटेनमेंट जोन से मुक्त

कवल वन्यजीव अभयारण्य में वन भूमि का अतिक्रमण